घूमना चाहते हैं कैलाश मानसरोवर, तो यात्रा के लिए जल्दी कीजिये ऑनलाइन अप्लाई

अगर आप इस साल कैलाश मानसरोवर की यात्रा का प्लान कर रहे हैं तो तैयार हो जाइये. साल 2018 की इस यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है. भारतीय विदेश मंत्रालय द्वारा मानसरोवर की यात्रा के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की अंतिम तारीख 23 मार्च है. दिल्ली से इस यात्रा की प्रक्रिया 8 जून से शुरू होगी जो सितम्बर...

इन खास ट्रिक्स को अपनाइए, आप भी बन जाइएगा स्मार्ट ट्रेवलर

अगर आप कहीं यात्रा पर निकल रहे हैं और चाहते हैं की आपका सफ़र शानदार और बिना किसी परेशानी के पूरा हो जाए तो घुमने जाने से पहले कुछ उपायों का करना आपके लिए बेहद जरुरी है. अक्सर यात्रा के दौरान हमारे साथ न चाहते हुए भी कई छोटे मोटे एक्सीडेंट हो जाते हैं. जैसे तबियत ख़राब होना, मोबाइल...

दिव्यांग दिवस स्पेशल: मिलिए ऐसे शख्स से जिनके हौसले से हारी विकलांगता, ट्राई साइकिल से किया सियाचिन ग्लेशियर का एडवेंचर सफ़र

मन में अगर कुछ कर गुजरने का जूनून हो तो फिर मुश्किलें चाहे जैसी भी हो मंजिल मिल ही जाती है. कुछ ऐसा ही जज्बा पटना में रहने वाले अनुराग चंद्रा के अन्दर है.  यूं तो अनुराग जन्म से विकलांग हैं लेकिन हमेशा कुछ नया और अलग करने की आग इनके अन्दर धधकती रहती है. तभी तो पैरों में...

पटना में होने जा रहा रिश्तों का महामिलन, आप आ रहे हैं न?

बचपन से सुनता आ रहा हूं की यात्रा हमें काफी कुछ सिखाती है, दिखाती है और अलग अलग भाषा, परिवेश, संस्कृति से जान पहचान भी कराती है. लोगों की इन बातों का मुझ पर इतना गहरा असर पड़ा कि मेरी भी घुमक्कड़ी चालू हो गयी. अपने सफ़र के दौरान देश के कई प्रसिद्ध मंदिरों का दर्शन किया, बौद्ध स्तूपों...

आस्था, रोमांच और राजस्थानी संस्कृति का संगम: पुष्कर मेला

पुष्कर... ये नाम सुनते ही जेहन में बस दो तस्वीरें ही दिखाई पड़ती है, एक ब्रह्मा भगवान का मंदिर तो दूसरा यहाँ लगने वाला विश्व प्रसिद्ध मेला. पुष्कर मेले को राजस्थान का सबसे बड़ा और पवित्र मेला माना जाता है. अजमेर से 11 किलोमीटर दूर यह शहर राजस्थान का तीर्थराज भी कहते हैं, क्योंकि यहां रोजाना घूमने आने वाले...

अगर आप हवाई सफ़र करते हैं तो पहले जान लीजिये इससे जुड़े आपके अधिकार

लम्बी दूरी का सफ़र तय करने के लिए हम प्राय हवाई सफ़र को ही प्राथमिकता देते हैं, ऐसे में प्लेन की यात्रा करने से पहले इससे जुड़े कई अधिकार भी आपको मिले हैं जिन्हें जानना हमारे आपके लिए बेहद जरुरी है. अगर प्लेन में कोई खराबी आ जाये तो इसके एक घंटे बाद प्लेन के यात्रियों को सुविधाएं प्रोवाइड...

रजरप्पा मन्दिर के दर्शन

जमशेदपुर शहर के बाद अगले दिन हमारी प्लानिंग रजरप्पा स्थित माँ छिन्नमस्तिके मंदिर घुमने की थी. मंदिर तय समय पर पहुंच जाए, इसके लिए हमलोग रात 3 बजे ही अपनी अलग अलग दो गाड़ियों में बैठकर रजरप्पा के लिए रवाना हो गए. एक तो दिसम्बर का वो सर्द महीना और ऊपर से रात के आखिरी पहर में लंबे सफ़र...

जमशेदपुर शहर की सैर

यूँ तो गुजरात, सिक्किम, उड़ीसा, महाराष्ट्र, उत्तरप्रदेश सहित देश के कई हिस्सों में अपनी उपस्थिति दर्ज करा ली है, पर अपने पड़ोसी राज्य झारखंड की खूबसूरती के दीदार से अभी तक वंचित था. हालांकि धनबाद, रामगढ़ जैसे शहरों में आना जाना हुआ, राउरकेला यात्रा के दौरान भी रांची रेलवे स्टेशन पर कुछ घंटे बिताया पर कभी मुसाफिर बन कर...

विन्ध्याचल यात्रा, बनारस भ्रमण भाग-4

वाराणसी में रहते हुए वक़्त मानों रेत की मानिंद हाथ से फिसलता जा रहा था और छुट्टियाँ भी ख़त्म होने वाली थी. इस दौरान अब तक शहर के अधिकांश दर्शनीय स्थलों के दर्शन हो चुके थे. बस विन्ध्याचल की यात्रा बाकी रह गयी थी. विन्ध्याचल बनारस से 65 किलोमीटर की दुरी पर है. कहा गया की अगर यहां चलना...

सारनाथ… भगवान बुद्ध की प्रथम उपदेश स्थली

बनारस प्रवास के दौरान इतने दिनों में शहर और यहां के रास्तों से थोड़ी बहुत जान पहचान होने लगी थी. वाराणसी में हमारे कई रिलेटिव्स रहते हैं, यहां तेलियाबाग़ और विशेश्वरगंज में रहने के दौरान शहर के चौक-चौराहे, गलियों, मंदिरों और गंगा घाटों के इतने चक्कर लगाए कि अब बनारस हमारे लिए अजनबी शहर बिलकुल भी नहीं रह गया...