देशभर में जानलेवा कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच हज यात्रा करने वालों के लिए बड़ी खबर आ रही है. हज कमिटी ऑफ इंडिया (Haj Committee of India) ने मक्का – मदीना जाने वाले तीर्थयात्रियों के लिए कोरोना टीकाकरण अनिवार्य कर दिया है. हज कमिटी ने एक एडवाईजरी जारी करके कहा है कि इस साल हज पर जाने वालों के लिए कोरोना वायरस के दोनों डोज लगवाना जरूरी है. कमिटी के अनुसार, हज का फॉर्म भरने वाले अपने मुताबिक कोरोना वायरस का टीका जल्दी से लगवा लें. हज यात्री ये सुनिश्चित कर लें कि मक्का – मदीना जाने से पहले दोनों वैक्सीन लगानी होंगी.

हज यात्रा पर पिछले साल भी लगा था प्रतिबंध

पिछले साल 2020 में जब कोरोना का संक्रमण अपने चरम पर था, उस वक़्त भी सऊदी अरब सरकार ने विदेशी हज यात्रियों की एंट्री पर रोक लगाई थी. इस कारण केवल स्थानीय नागरिक ही हज कर सके थे. वहीं, इस साल 2021 में भी देश कोरोना वायरस की उससे भी ज्यादा खतरनाक दूसरी लहर का सामना कर रहा है.

हज यात्रा पर अभी अंतिम फैसला नहीं

हज कमिटी ऑफ इंडिया के मुताबिक, अभी तक सऊदी अरब सरकार की तरफ से इसके अलावा और कोई हिदायत जारी नहीं की गई है. इसलिए हज यात्रा 2021 की जो भी प्रक्रिया होगी वो सऊदी हुकूमत से मिलने वाले निर्देशों के बाद ही शुरू होगी.

क्या होता है हज

इस्लाम धर्म में हज यात्रा काफी मायने रखता है. जीवन में एक बार हज यात्रा करने का विधान है. ये इस्लाम में एकता और विश्वास का प्रतीक है. इसके लिए भारत समेत दुनिया भर के मुस्लिम हज यात्रा के लिए सऊदी अरब पहुंचते हैं. वैसे अभी पवित्र रमजान का महीना भी चल रहा है. इस साल हज यात्रा 17 जुलाई को शाम में शुरू होकर 22 जुलाई को शाम में समाप्त होगी. लेकिन, कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के चलते संक्रमितों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है. इस कारण पर्यटन पर भी इसका असर पड़ सकता है. हालांकि फ़िलहाल हज यात्रा को लेकर अंतिम फैसला अभी नहीं दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here