इत्ती सी ख़ुशी… इत्ती सी हंसी… अब हो भी क्यों ना… जब काम के साथ मस्ती करने का भी फुलटू मौका मिले तो.

जैसे ही अपने 3rd सेमेस्टर की परीक्षा देकर घर पहुंचा, तो कुछ देर के बाद फोन आया की हम सभी यानी जो भी उस चैनल में इंटर्न कर रहे है सब को अगले दिन दरभंगा हाउस सुबह-सुबह ही पहुंचना है. यह खबर सुनते ही मन में स्वाभाविक रूप से हलचल होने लगी कि आखिर होने वाला क्या है? चैनल के सर ने हमसभी को इतनी सुबह वहां क्यों बुला लिया? अगले दिन सुबह लगभग आठ बजे हम सभी वहां पहुंचे. कुछ देर में चैनल से जुड़े और लोग भी आ गये.

तब जाकर मालूम हुआ की हमसब की वीडियो शूट होने वाली है. फिर क्या था शुरू हो गयी हमारी मस्ती. नाव से हमलोग काली घाट के अपोजिट यानी गंगा नदी के दुसरे किनारे पहुंचे जहाँ के दृश्य काफी सुन्दर थे. उसकी सुन्दरता को देख मन गदगद हो रहा था. इधर हम सभी स्वछंद घूम रहे थे और उधर हमारी एक एक एक्टिविटी कैमरे में कैद हो रही थी. वहां कई सीन्स हमें बताये भी जा रहे थे जिन्हें हमलोग सभी एन्जॉय करते हुए बड़े उल्लास के साथ कर भी रहे थे.

दरअसल चैनल का थीम सोंग बन रहा था जिसके लिए ऑफिस से हमलोगों को चुना गया था. उस दिन की गयी यह सारी मस्ती चैनल के विडियो वाले कैमरे में तो कैप्चर हुयी ही साथ ही हमारे क्लास मेट दीपक के नए मोबाइल ने भी हमारे एक एक पल को क्लिक कर इसे यादगार बना दिया.तो आप भी देखिये हमारी ये की गयी खूब सारी मस्ती के फोटोज ….

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here