देश – दुनिया में फैले कोरोना वायरस की दहशत का असर लोगों की यात्राओं पर भी पड़ रहा है. देशभर में पर्यटन स्थलों को बंद कर देने के कारण लोग अपनी घुमक्कड़ी छोड़ घर बैठने को मजबूर हो गए हैं. केंद्र सरकार ने भी लोगों से 31 मार्च तक बस, ट्रेन और प्लेन में यात्रा नहीं करने की सलाह दी है. एहतियात के तौर पर मुम्बई का सिद्धि विनायक मंदिर, शिर्डी साई मंदिर, उज्जैन का महाकाल मंदिर, अजंता – एलोरा की गुफाएं, ताजमहल समेत सभी स्मारक 31 तक बंद हैं.
कोरोना के प्रकोप से बिहार भी अछूता नहीं है. यहां राज्य सरकार ने पटना जू, सभी पार्क और म्यूजियम को आम लोगों और पर्यटकों के लिए बंद कर रखा है. वहीं मंगलवार से भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के अधीन आने वाले पुरातात्विक स्थल और म्यूजियम भी बंद कर दिए गए हैं. आपको बता दें कि बिहार में भारतीय पुरातात्विक सर्वेक्षण के अंतर्गत 71 पुरातात्विक स्थल आते हैं. इनमें सासाराम स्थित शेरशाह सूरी का मकबरा, पटना के कुम्हरार स्थित मौर्यकालीन महल के अवशेष, विश्व धरोहर में शामिल नालंदा विश्वविद्यालय खँडहर, पूर्वी चंपारण का अशोक स्तंभ, बौद्ध स्तूप, मधुबनी में राजा बाली का गढ़, जहानाबाद में सुदामा का गुफा, गया में रामायण काल का सुजाता गढ़, पटना के मनेर में मखदूम साह का मकबरा, वैशाली स्थित राजा विशाल का गढ़, रोहतास का किला और किशनगंज में कन्हैया जी का मंदिर घूमने देश – विदेश से बड़ी संख्या में लोग आते हैं. इसके साथ – साथ विक्रमशिला, नालंदा, वैशाली और बोधगया में स्थित म्यूजियम में भी दर्शकों के आने पर रोक लगा दी गयी है.

टाइगर रिजर्व टूर पैकेज भी बंद

कोरोना वायरस के डर से पटना से बेतिया स्थित वाल्मीकि टाइगर रिजर्व के टूर पैकेज को भी 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है. आपको बता दें कि वाल्मीकि टाइगर रिजर्व घूमने के लिए जो टूर पैकेज है वो प्रति व्यक्ति 15 सौ रुपए है. ऐसे में जिन लोगों ने भी 14, 21 और 28 मार्च की बुकिंग करा रखी थी, विभाग उनकी बुकिंग कैंसिल कर उनका पैसा रिफंड कर देगा.

पर्यटन उद्योग पर पड़ा असर

कोरोना का असर बिहार के पर्यटन पर भी देखा जा रहा है. पिछले कुछ दिनों से बिहार आने वाले विदेशी पर्यटकों की संख्या भी घटकर आधी रह गयी है. सूबे में राजगीर और नालंदा खँडहर जैसे कई ऐसे दर्शनीय स्थल है, जो विदेशी पर्यटकों से ही गुलजार रहता रहता था, पर आज बंदी के बीच वहां सन्नाटा पसरा है. टूरिस्टों के बिहार नहीं आने से यहां होटल समेत अन्य स्थानीय क्षेत्रों में मायूसी है.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here