Latest from blog

सागर की लहरों से भींगता जहां तन –मन, चलो घूम आएं...

पिछले पोस्ट यानि गुजरात यात्रा के छठें पड़ाव में आपने हमारी वांकानेर और सूरत भ्रमण के बारे में पढ़ा. अब सूरत से हमलोग अपनी...

सिक्किम की सैर

तल्ख़ धुप, गर्म हवाओं के थपेड़े, पसीने से तरबतर दिन तो उमस से भरी रातें. पटना में  मौसम के इस गर्म मिजाज को सहते...

रजरप्पा मन्दिर के दर्शन

जमशेदपुर शहर के बाद अगले दिन हमारी प्लानिंग रजरप्पा स्थित माँ छिन्नमस्तिके मंदिर घुमने की थी. मंदिर तय समय पर पहुंच जाए, इसके लिए...

ट्रेवल डायरी: उज्जैन के महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग का दर्शन कर लौटीं जर्नलिस्ट...

शिप्रा नदी के किनारे बसा उज्जैन मध्यप्रदेश का सबसे प्राचीन शहर है. यह विक्रमादित्य के राज्य की राजधानी थी, तो इसे कालिदास की नगरी...

आस्था, रोमांच और राजस्थानी संस्कृति का संगम: पुष्कर मेला

पुष्कर... ये नाम सुनते ही जेहन में बस दो तस्वीरें ही दिखाई पड़ती है, एक ब्रह्मा भगवान का मंदिर तो दूसरा यहाँ लगने वाला...

वलसाड़: समुंद्री किनारे,मंदिर,किले और अल्फांसों आम का शहर

दमन का खुबसूरत सफ़र तय कर सूरत लौटने में ही हमें रात हो गयी. फिर अगले दिन सूरत से वलसाड़ के लिए निकलना था....